September 28, 2022
Pani Peene se Pahle aur Baad ki Dua in Hindi | पनि पिने की दुआ

Pani Peene se Pahle aur Baad ki Dua in Hindi | पनि पिने की दुआ

Pani Peene ki Dua :- अस्सलामु अलैकुम मेरे दोस्तों आपका हार्दिक स्वागत है हमारे इस लेख में आज के इस लेख के मदद से हम पानी पीने की दुआ के बारे में जानकारी प्राप्त करने वाले हैं और यह भी जानेंगे कि आखिर पानी पीने से पहले कौन सी दुआ पढ़ी जाती है औ र पानी पीने के बाद कौन सी दुआ पढ़ी जाती है और यह भी जानेंगे कि अगर हम पानी पीने से पहले दुआ पढ़ना भूल जाए तो क्या करें अक्सर लोग पानी पीने से पहले दुआ पढ़ते हैं ।

अभी भी कई सारे ऐसे लोग हैं जिन्हें पानी पीने से पहले का दुआ नहीं याद है अगर आप भी उन्हीं में से एक हैं तो आप हमारे इस लेख के साथ अंत तक बने रहें। क्योंकि इस लेख में हम ने इन्हीं सभी Topic पर बात किया है तो चलिए शुरू करते हैं इस लेख को बिना देरी किए हुए।


Pani Peene ki Dua in Hindi

दोस्तों पानी एक ऐसा पेय पदार्थ है जो कि हमें जीवन यापन करने में मदद करता है। पानी हम पूरी जिंदगी पीते हैं, लगभग हर एक व्यक्ति अपने जीवन में पानी को शुरू से लेकर अंतिम घड़ी तक पीता है। चाहे मनुष्य कोई भी मजहब का हो उसका धर्म अलग क्यों ना हो वह पानी जरूर पीता है ।

इसी प्रकार से इस्लामिक धर्म में इस्लामिक तरीके से पानी पीने का अलग नियम कानून होता है जिसको अपना करके कोई भी मुसलमान व्यक्ति पानी पी सकता है। पानी पीने से पहले दुआएं भी पढ़ी जाती है हमने उन सभी दुआओं को नीचे में स्टेप बाय स्टेप करके लिखा है ।

आप उन्हें ध्यान से पढ़ें और याद करें और जब भी पानी पिये तो पानी पीने से पहले उन दुआओं को अवश्य पढ़ें क्योंकि दुआ पढ़कर पानी पीने से हमारे शरीर में काफी फायदा होता है और पानी पाक हो जाता है।


Pani peeni ki pahle ki dua in hindi

“बिस्मिल्लाह-हिर्रहमा-निर्रहीम”

इस दुवा की तर्जुमा यानी कि अर्थ होता है,  शुरु करता हूं अल्लाह के नाम से जो बडा मेहरबान और निहायत ही रहम करने वाला है।

दोस्तों यह पानी पीने के पहले की दुआ है यह पढ़ करके आप पानी पीना आरंभ कर सकते हैं चलिए अब हम अगले टॉपिक की ओर बढ़ते हैं और जानते हैं कि आखिर पानी पीने का इस्लामिक धर्म में सही तरीका क्या क्या है।


पानी पीने का सही तरीका

दोस्तों हमने इस टॉपिक में पानी पीने के सही तरीके को नीचे में स्टेप बाई स्टेप करके लिखा है तो आप उन्हें ध्यान से पढ़ें और समझें।

  • इस्लाम के अनुसार हमें हमेशा अपने दाएं हाथ से पानी पीना चाहिए क्योंकि ऐसा माना गया है, कि शैतान बाएं हाथ के उपयोग से पानी पीते हैं इसलिए आप जब भी पानी पिए तो अपने दाएं हाथ का उपयोग करें।
  • कभी भी खड़ा होकर पानी ना पिए अगर आप के अगल बगल में कोई बैठने की जगह है तो आप इत्मीनान से वहां पर बैठ जाए और फिर बैठ कर पानी पिए।
  • जब भी पानी पिए तो 3 सांस में पानी को खत्म कर दें यानी कि पूरे पानी को पी जाएं।
  • जब भी आप पानी पिए तो पानी पीने वाले बर्तन में कभी भी सांस ना ले और जब भी पानी पीते समय सांस ले तो अपने मुंह से पानी पीने वाले बर्तन को दूर रखकर ले।

पानी पीते समय इन सभी नियम को याद रखें और इन सभी नियमों को ध्यान में मध्य नजर रखते हुए तभी पानी पिए।


Pani Peene ki Baad ki Dua in Hindi

दोस्तों हमने ऊपर के टॉपिक में जाना कि पानी पीने से पहले कौन सी दुआ पढ़ी जाती है अब हम इस टॉपिक के माध्यम से जानेंगे कि आखिर पानी पीने के बाद कौन सी दुआ पढ़ी जाती है और कैसे पढ़ी जाती है।

हमने इस दुआ को नीचे में स्टेप बाई स्टेप करके लिखा है तो आप उसे ध्यान से पढ़ें और याद रखें और जब भी आप पानी पी ले तो अंत में यह दुआ जरूर पढ़ें।

 ” अल्हम्दुलिल्लाही रब्बिल आलमीन “

तर्जुमा- सब खुबियाँ  अल्लाह के लिए जो सारे जहां का रब है।

दोस्तों इस दुआ को आप पानी पीने के बाद पढ़ सकते हैं।


Watch This For More Information :-


[ Conclusion, निष्कर्ष ]

दोस्तों आशा करता हूं कि आपको मेरा यह लेख बेहद पसंद आया होगा और आप इस लेख के मदद से Pani Peene se Pahle aur Baad ki Dua के बारे में जानकारी प्राप्त कर चुके होंगे।

हमने इस लेख में सरल से सरल भाषा का उपयोग करके आपको Pani Peene se Pahle aur Baad ki Dua, के बारे में बताने की कोशिश की है।आप हमारे दिए गए कमेंट सेक्शन में अपनी राय जरूर दें कि आपको यह लेख कैसा लगा और आपको पानी पीने की दुआ समझ में आया कि नहीं।


Also Read :-

Leave a Reply

Your email address will not be published.